बजरंग दल (कोंकण प्रान्त) द्वारा कांदिवली में आयोजित शौर्य प्रशिक्षण वर्ग.

सेवा, संस्कार , सुरक्षा तिन त्री सूत्री के आधार पर काम करने वाली विश्व हिंदू परिषद अंतर्गत हिन्दू ओंकी युवा संगठन बजरंग दल द्वारा कांदिवली के आय.इ.एस. स्कुल में दिनांक १९ मई से २७ मई २०१८ तक ७ दिन का बजरंग दल शौर्य प्रशिक्षण वर्ग का आयोजन किया गया था | आयु वर्षे १५ से ३५ तक के विद्यार्थी इस वर्ग के लिए अपेक्षित होते है | वर्ग का उद्घाटन सत्र अखिल भारतीय बजरंग दल संयोजक आदरणीय मनोज वर्मा जी के उद्बोधन से हुआ |
बजरंग दल शौर्य प्रशिक्षण वर्ग बौद्धिक सत्र में संगठन के केन्द्रीय संगठन मंत्री श्री. विनायकराव जी देशपांडे, केन्द्रीय बजरंगदल संयोजक श्री मनोज जी वर्मा, केन्द्रीय सत्संग प्रमुख श्री दादा. वेदक जी, जैसे अनुभवी व्यक्तियों द्वारा संगठन से संदर्भित विविध विषयों पर चर्चा सत्र एवं कृति सत्र संपन्न हुए तथा शारीरिक अभ्यास में दंड प्रशिक्षण, खडग (तलवार बाजी ), नियुद्ध, बाधा, लक्ष भेद (टारगेट प्रक्टिस), विविध मैदानी खेल का प्रशिक्षण विद्यार्थी यों को दिया गया |
सबेरे ४.३० से रात्री १०.०० बजे तक की व्यस्त समय सारणी में बजरंग दल के वर्ग में अनुशासन का पालन करते विद्यार्थी बौद्धिक तथा शरीरीक अभ्यास करते है | गुरुकुल परंपरा पर आधारित इस वर्ग में प्रशिक्षनार्थी ओंको पुरे ७ दिन वर्ग स्थान पर ही रहना होता है | प्रशिक्षण के दौरान विद्यार्थी अपने परिवार से दूर बाकि प्रशिक्षनार्थी ओंको साथ गण में निवास करते है | वर्ग के पुरे समय में प्रशिक्षनार्थी ओंको साथ शिक्षक भी अपने मोबाईल का इस्तेमाल नहीं कर सकते | और जब तक वर्ग पूर्ण नहीं होता किसी को भी वर्ग से बहार जाने की अनुमति नहीं होती है |
कोंकण प्रान्त के २१ जिल्हो से १५४ प्रशिक्षणार्थी बजरंग दल शौर्य प्रशिक्षण वर्ग में सहभागी हुवे | इन विद्यार्थी ओंको मार्गदर्शन करने के लिए विश्व हिन्दू परिषद, कोंकण प्रान्त – बजरंग दल के प्रान्त संयोजक श्री संदीप जी भगत, विश्व हिन्दू परिषद के प्रान्त संगठन मंत्री श्री. अनिरुद्ध जी पंडित और अन्य २० शिक्षक पूर्ण समय वर्ग में उपस्थित थे | बजरंग दल शौर्य प्रशिक्षण वर्ग २०१८ में वर्ग मुख्य शिक्षक श्री राजेंद्र जी पावर , बौद्धिक प्रमुख श्री दिनेश जी स्वर्णकार श्री सचिन जी चव्हाण इस वर्ग के व्यवस्था प्रमुख थे |
दिनांक २६ मे शाम ५:०० बजे इस वर्ग का जाहिर समापन कार्यक्रम आयोजित किया गया था | जिसमे भव्य शोभायात्रा का आयोजन किया गया था | वर्ग के समारोप सत्र में आदरणीय एडवोकेट श्री दीपक राव गायकवाड जी के उद्बोधन के बाद ७ दिनो में प्रशिक्षित प्रशिक्षणार्थी ओ द्वारा विविध प्रत्याक्षित सादर किये गए |

Back To Top