श्रीराम जय राम जय जय राम শ্ৰীৰাংজয়ৰাংজয়জয়ৰাং শ্রীরাম জয় রাম জয় জয় রাম શ્રીરામ જય રામ જયજય રામ ಶ್ರೀ ರಾಮ ಜಯ ರಾಮ ಜಯ ಜಯ ರಾಮ ശ്രിറാം ജയ് റാം ജയ് ജയ് റാം శ్రీరాం జయ రాం జయ జయ రాం

प. पू भास्करगिरीजी महाराज श्रीक्षेत्र पंढरपूर संस्थानके विश्वस्तके रुपमे नियुक्त

प.पू सतगुरु श्री किसनगिरी बाबाजीके प्रमुख शिष्यवर श्रीक्षेत्र देवगड ता. नेवासा जि. नगर स्थित श्री दत्त संस्थानके महंत प. पू. श्री भास्करगिरी महाराजजी को श्रीक्षेत्र पंढरपूर संस्थानके विश्वस्तके रुपमे नियुक्त किया गया . इस नियुक्तीपर दिनांक ६ जुलाई २०१७ को प,पू, भास्करगिरीजी महाराजका सत्कार, अभिनंदन एवम अभिवादन पश्चिम महाराष्ट्र प्रांत विश्व हिंदू परिषद की ओरसे प्रांत संघटनमंत्री श्री भाऊराव कुदळे तथा प्रांत सहमंत्री श्री विवेक कुळकर्णीने किया प, पू भास्करगिरीजी महाराज विश्व हिंदू परिषद केंद्रीय मार्गदर्शक मंडल के सदस्य है.

प.पू. भास्करगीरीजी महाराजजीने देवस्थान मे अपना कार्य मर्यादित ना रखते हुए निरंतर देशके विभिन्न भागोमे प्रवास किया . अध्यात्म इस राष्ट्रकी एवम समाजकी धारणा बननेमे प्रभावी साधन है| समाज और राष्ट्र खडा करनेके लिये सभी धार्मिक , सामाजिक एवं राष्ट्रीय कार्य्मे अपना सहभाग दिया |महाराष्ट्रामे निरंतर प्रवास करना, सदाचरण ,समाज संघटन ,अध्यात्मिकताका प्रचार करते हुए प्रवचन, कीर्तन , व्याख्यान के माध्यामसे शहर एवम ग्रामीण भागोमे प्रभावी भक्ती संवाद करते है . भक्ती राष्ट्र खडा करनेका कार्यामे लोगोको शामिल करके संघटन खडा करनेका एक प्रभावी एवं महत्वपूर्ण साधन है ऐसा अपने कृतीसे दिखाया है . विश्व हिंदू परिषदके कार्यमे वे निरंतर अग्रेसर रहते है | गोरक्षा , सेंद्रिय खेती , किसानोके प्रश्नका समाधान कारानेके लिये वे निरंतर कार्य करते है |

Back To Top